November 19, 2020

पटना: शिक्षा मंत्री ने ज्वाइन कर दिया स्तीफा, अशोक चौधरी को मिला अतिरिक्त प्रभार

पटना : बिहार सरकार के नव नियुक्त शिक्षा मंत्री मेवालाल चौधरी के इस्तीफे की जानकारी के बाद राजनीतिक गलियारे में हलचल तेज गई है। मेवालाल चौधरी ने आज ही पदभार ग्रहण किया था जिसके बाद आज अचानक मेवालाल ने इस्तीफा दे दिया है। इस्तीफे के बाद जेडीयू प्रवक्ता अजय आलोक और पूर्व मंत्री नीरज कुमार ने ट्वीट कर मामले पर सफाई दी है साथ ही लालू परिवार पर निशाना साधा है।
शपथ लेने के बाद मेवालाल ने कहा कि कोई भी केस तब साबित होता है जब आपके खिलाफ़ कोई चार्जशीट हुई हो या कोर्ट ने कुछ फैसला किया हो न हमारे खिलाफ अभी कोई चार्जशीट हुई है न ही हमारे ऊपर कोई आरोप दर्ज हुआ है।

Advertisements

मेवालाल पर घोटाला का आरोप

गौरतलब है कि नीतीश कुमार ने बिहार के बड़े नौकरी घोटाले के आरोपी को अपना शिक्षा मंत्री बनाया है। बिहार के नये शिक्षा मंत्री बने मेवालाल चौधरी पर कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति रहते नौकरी में भारी घोटाला करने का आरोप है। उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज है और देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोबिंद ने बिहार का राज्यपाल रहते मेवालाल चौधरी के खिलाफ जांच करायी थी तथा उन पर लगे आरोपों को सच पाया था। ये जांच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहल पर हुई थी। मेवालाल चौधरी पर सबौर कृषि विश्वविद्यालय के भवन निर्माण में भी घोटाले का आरोप है।

Advertisements

सबसे बड़ी बात ये है कि मेवालाल चौधरी के इस बड़े घोटाले के खिलाफ सत्तारूढ जेडीयू के नेताओं ने भी आवाज उठायी थी। विधान परिषद में जेडीयू विधान पार्षदों ने मेवालाल चौधरी के खिलाफ हंगामा खड़ा दिया था वहीं बाद में बीजेपी के नेता सुशील कुमार मोदी ने इसे जोर शोर से उठाया था और सबूतों का पुलिंदा लेकर तत्कालीन राज्यपाल रामनाथ कोबिंद से मिले थे। इसके बाद जांच हुई और जांच में पाया गया कि मेवालाल चौधरी ने कृषि विश्वविद्यालय का कुलपति रहते बड़ा घोटाला किया है जो 161 सहायक प्राध्यापकों की नियुक्ति में हुआ था। मेवालाल चौधरी पर लगे आरोपों को लेकर विपक्षी पार्टियां लगातार सरकार पर हमला बोल रही हैं लेकिन नीतीश कुमार ने चुप्पी साध रखी है। प्राप्त जानकारी के अनुसार अशोक चौधरी को अतिरिक्त प्रभार मिला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *