अपहरण के बाद 10 लाख वसूली कर, लोजपा नेता की हत्या

Advertisements

सारण छपराः (सूत्र) बिहार के पूर्णिया से तीन दिनों पहले अपहृत लोजपा के प्रदेश नेता अनिल उरांव की अपहर्ताओं ने हत्या कर दी. उनका शव रविवार सुबह केनगर थाना क्षेत्र के झुंनी इस्तम्बरार पंचायत के डंगरहा गांव से बरामद किया गया.मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, उनके शव को एक महिला ने देखा जिसके बाद स्थानीय लोगों को इसकी सूचना दी गई.

Advertisements

अनिल उरांव की हत्या करने के बाद अपराधियों ने शव को मिट्टी में गाड़ दिया था. सुबह एक महिला को शव का पैर बाहर दिखा तो उसने लोगों को इसकी जानाकरी दी. जिसके बाद स्थानीय लोगों ने पुलिस को मामले की जानकारी दी.

Advertisements

मामले की जानकारी होते ही पुलिस फौरन मौके पर पहुंची. शव को देखकर ऐसी आशंका जताई जा रही है कि उरांव के साथ अपहर्ताओं ने काफी बेरहमी से मारपीट की होगी. शव पर कई जगह जख्म के निशान हैं. बता दें कि लोजपा नेता का शुक्रवार को अपहरण कर लिया गया था. अपहर्ताओं ने नेता के परिजनों से उन्हें छोड़ने के एवज में 10 लाख रुपये की फिरौती भी वसूल की थी. इसके बाद भी उनकी हत्या कर दी गई.

Advertisements

अनिल उरांव का शव मिलने के बाद स्थानीय लोगों, परिजनों और लोजपा कार्यकर्ताओं में आक्रोश दिखा. उन्होने पुलिस पर लापरवाही करने का आरोप लगाया है. शहर में कई चौक-चौराहे को जाम कर दिया गया और आरएनसाह चौक पर शव को रखकर अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग की जा रही है. कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंची है और विधि-व्यवस्था कायम रखने का प्रयास किया जा रहा है।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *